मेरी क़लम - Meri Qalam - میری قلم ...

Saturday, January 11, 2014

ट्रैफिक हवलदार की शराफत


क्या साहेब... आपने पहले क्यूँ नहीं बताया... की आप...! अब प्लीज़ नाराज़ मत होइए ! वो क्या है ना साहेब, अब आप से क्या छुपाना, पूरी 5 पेटी (लाख) दी है इस चौराहे पर खड़े होने की, वो भी सिर्फ 3 महीने के लिए !! अब वसूल तो...... !

(ऐ पीली बाइक, साइड में ले...!) 



चलो सलाम साहेब !!

No comments:

Post a Comment