मेरी क़लम - Meri Qalam - میری قلم ...

Tuesday, July 27, 2010

ज़रूरी नहीं

रविवार को डॉक्टर अब्दुल कलाम के साथ कुछ वक़्त बिताया ! बातों ही बातों में उन्होंने एक बहुत महत्वपूर्ण वाक्य कहा !

" ज़रूरी नहीं की हर हंस कर बात करने वाला व्यक्ति आपका दोस्त हो, और यह भी ज़रूरी नहीं की हर गुस्से से बात करने वाला व्यक्ति आपका दुश्मन हो !"
 

बिलकुल सही कहा डॉक्टर साहेब ने !

No comments:

Post a Comment